लंदन कोर्ट से विजय माल्या को झटका, प्रत्यर्पण के खिलाफ अपील खारिज

ब्रिटेन के हाईकोर्ट ने प्रत्यर्पण के खिलाफ भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की लिखित अपील खारिज कर दी है।

0
319

ब्रिटेन के हाईकोर्ट ने प्रत्यर्पण के खिलाफ भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की लिखित अपील खारिज कर दी है। अपील खारिज होने के बाद माल्या (Vijay Mallya) को वापस भारत लाने की उम्मीद बढ़ गई है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और सीबीआई (ED and CBI) दोनों भारतीय एजेंसियां माल्या के खिलाफ 9,000 करोड़ रुपये से ज्यादा के बैंक धोखाधड़ी के मामलों की जांच कर रही हैं। हाल में भारत की एक अदालत ने उसे भगोड़ा घोषित किया था।

पिछले साल दिसंबर में लंदन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट ने माल्या (63) को भारत प्रत्यर्पित करने का फैसला सुनाया था। इसके बाद फरवरी में ब्रिटेन के गृह मंत्री साजिद जाविद ने उसके प्रत्यर्पण आदेश पर हस्ताक्षर कर दिए थे। ब्रिटिश सरकार के इसी फैसले के खिलाफ शराब कारोबारी ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। ब्रिटिश न्यायपालिका के एक प्रवक्ता ने बताया कि जस्टिस विलियम डेविस ने 5 अप्रैल को प्रत्यर्पण के खिलाफ अपील करने की अनुमति देने के माल्या के आवेदन को नामंजूर कर दिया।

माल्या मार्च, 2016 से ब्रिटेन में है। अप्रैल, 2017 में प्रत्यर्पण वारंट पर हुई गिरफ्तारी के बाद से वह जमानत पर है। संकट में फंसे माल्या ने हाल में कई भारतीय बैंकों को संतुष्ट करने के लिए अपनी खर्चीली जिंदगी छोड़ने की पेशकश की थी। लंदन की कोर्ट को भी यह जानकारी दी गई थी। माल्या को अभी करीब 18,325.31 पाउंड की अधिकतम राशि एक सप्ताह में खर्च करने अनुमति है। उसने इस राशि को घटाकर 29,500 पाउंड मासिक करने की पेशकश की थी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here