यूपी सरकार बदलेगी अंबेडकर का नाम

0
256

उत्तर प्रदेश के सभी रिकॉर्ड्स में संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर के नाम के साथ ‘रामजी’ जोड़ा जाएगा। योगी सरकार ने गुरुवार को राज्यपाल राम नाईक की सलाह के बाद डॉ. भीमराव अंबेडकर का नाम बदलकर डॉ. भीमराव रामजी आंबेडकर करने का आदेश जारी किया। बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के नाम को लेकर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। राज्यपाल राम नाईक की सिफारिश के आधार पर योगी सरकार ने सभी सरकारी अधिकारी को यह आदेश जारी किया है अब सभी सरकारी रिकॉर्ड और दस्तावेज में आधिकारिक तौर पर डॉ बीआर अंबेडकर के साथ उनका मिडिल नेम ‘रामजी’ का इस्तेमाल किया जाएगा. यानी अब उत्तर प्रदेश के सरकारी रिकॉर्ड में बाबा साहेब के नाम के साथ रामजी भी जोड़ना होगा।

योगी सरकार ने डॉ अंबेडकर के मिडिल नेम का इस्तेमाल अब सरकारी कार्यों के लिए अनिवार्य कर दिया है। अब सरकारी दस्तावेजों और रिकॉर्ड में भीमराव रामजी अंबेडकर लिखा जाएगा। बता दें कि बीआर अंबेडकर का पूरा नाम भीमराव रामजी अंबेडकर है, जिन्हें बाबा साहब के नाम से भी जाना जाता है। वहीं इस बात को लोगों और सरकार को बताने के लिए गवर्नर राम नाईक लंबे वक्त से इसे लेकर एक कैंपेन चला रहे थे। उनका कहना है कि अंबेडकर महाराष्ट्र से जुड़े थे। लेकिन कभी भी उनके नाम के साथ पिता का नाम रामजी नहीं जोड़ा गया। उनका कहना था कि रामजी ना जोड़कर हम बाबा साहेब का अधूरा नाम लेते आए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here