डिहाइड्रेशन से बचने के लिए अपनाएं यह टिप्स, गर्मियों में आएंगे काम

0
179

डिहाइड्रेशन एक शारीरिक समस्या है, जो शरीर में पानी की कमी है। गर्मी के दिनों में उच्च तापमान के कारण देखा या पाया जाता है कि शरीर में पानी की कमी हो जाती है। जिससे शरीर की क्रिया धीमी पड़ने लगती है। वैसे तो दिन में 8-9 गिलास पानी का सेवन हर व्यक्ति को करना चाहिए, लेकिन गर्मियों में पानी की अधिक मात्रा लेना बहुत जरूरी है क्योंकि शरीर का तापमान नियंत्रित करने के लिए हमारा बहुत सारा पसीना निकल जाता है, जिससे शरीर में पानी की कमी भी हो सकती है और अन्य कई प्रॉबल्म होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

कब होता है डिहाइड्रेशन की समस्या

जब आपका शरीर पानी की मात्रा को ज्यादा खोने लगता है जितना आप पानी पीते है तो उससे डिहाइड्रेशन की समस्या उत्पन्न होती है। बच्चों एवं वयस्क में यह एक आम समस्या है। परंतु कभी-कभी यह सामान्य सी समस्या बड़ी बीमारी का कारण भी बन सकती है इसीलिए इस परेशानी से निदान पाना आवश्यक है। यहां हम कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों की बात करेंगे जिसको उपयोग में लाकर डिहाइड्रेशन जैसी समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

डिहाइड्रेशन के लक्षण

बार बार थोड़ी थोड़े समय पर प्यास का अनुभव होना।

गले में सूखा सुख या रूखापन महसूस करना।

शरीर का कमजोर हो जाना अर्थात काम करने का मन न करना सुस्ती लगना।

पेशाब करने पर पिला मूत्र प्रवाहित होना या फिर पेशाब का कम होना।

बार बार कमजोरी की वजह से नींद लगना।

त्वचा का रूखापन।

पेट में जलन महसूस होना या खट्टा ढेकार आना।

शरीर में पानी की कमी का लक्षण ओठो का फटना।

डिहाइड्रेशन से बचने के उपाय

छाछ:- यदि आप दिनभर धूप में काम करते हैं या आपको किन्हीं कारणों से अधिक पसीना आता है तो भी आपको डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। इस तरह की समस्या से निपटने के लिए छाछ एक प्रभावी नुस्खा है। उपचार के लिए दिन में एक से दो गिलास छाछ पिएं।

सूप:- डिहाइड्रेशन से निपटने में सब्जियों के सूप भी प्रभावी असर दिखाते हैं। इसके लिए सूप में अजवायन, मूली और तोरी जैसी सब्जियां डालकर सूप तैयार करें। दिन भर में कम से कम एक बार सूप जरूर पिएं।

नींबू पानी:- नींबू पानी न सिर्फ शरीर को हाइडे्रट रखता है बल्कि शरीर के टॉक्सिन भी बाहर निकालता है। नींबू पानी पीने से ताजगी का एहसास होता है। नींबू पानी बनाने के लिए चीनी की जगह शहद का इस्तेमाल करें और एक चुटकी काली मिर्च भी डालें।

जौ का पानी:- जौ का पानी भी शरीर को हाइड्रेट रखने का अच्छा उपाय है। जौ के पानी से डिहाइड्रेशन के दौरान शरीर में हुई पोषक तत्वों की कमी की भरपाई होती है। यी आसानी से पच जाता है और शरीर को ठंडा रखता है। उपचार के लिए 4 कप पानी में एक कप जौ भिगा दें। उसके बाद इस पानी को लगभग 45 मिनट ढककर उबालें। जब अच्छी तरह उबल जाए तो इस पानी को छानकर गुनगुना रहने तक ठंडा करें और इसमें शहद मिलाकर पिएं। स्वाद बढ़ाने के लिए नींबू का रस भी मिलाया जा सकता है।

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here