मतदान का पहला चरण : 20 राज्यों की 91 सीटों पर मतदान जारी।

0
452

लोकसभा चुनाव (Lok Sabbha Election) के पहले चरण का मतदान (1st Phase Lok Sabha Election 2019) शुरू हो गया है. पहले चरण (Phase 1 Voting) की वोटिंग में 20 राज्यों की 91 सीटों पर मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. 91 लोकसभा सीटों (91 Constituencies) पर कुल 1279 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. पहले चरण में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कई बड़े नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर है. पहले चरण के मतदान में जिन प्रमुख नेताओं की किस्मत EVM में कैद हो जाएगीस उनमें केंद्रीय मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह, नितिन गडकरी, हंसराज अहीर, किरण रिजीजू, कांग्रेस की रेणुका चौधरी, एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी शामिल हैं.

पहले चरण (Phase 1 Voting) में रालोद के अजित सिंह का मुकाबला उत्तर प्रदेश में मुजफ्फरनगर सीट पर BJP के संजीव बालियान से है, जबकि उनके बेटे जयंत चौधरी बागपत सीट पर केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह को चुनौती दे रहे हैं. लोजपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के सांसद पुत्र चिराग पासवान बिहार में जमुई सीट से उम्मीदवार हैं. पहले चरण में छत्तीसगढ़ की नक्सली हिंसा प्रभावित बस्तर सीट पर भी मतदान होगा.

– पीएम मोदी ने पहली बार वोट डालने वाले मतदाताओं से लोकतंत्र के महापर्व में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की.


17वीं लोकसभा के गठन के लिए 543 सीटों के लिए सात चरण में 11 अप्रैल से 19 मई तक मतदान होना है. नतीजे 23 मई को घोषित किए जाएंगे. पहले चरण में आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, उत्तराखंड, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम और तेलंगाना की सभी लोकसभा सीटों के लिए मतदान होगा. इसके अलावा उत्तर प्रदेश की 8 लोकसभा सीटों (सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद और नोएडा) और बिहार की चार सीटों (औरंगाबाद, गया, नवादा और जमुई), असम की पांच और महाराष्ट्र की सात, ओडिशा की चार और पश्चिम बंगाल की दो सीटों के लिए मतदान होगा. इस चरण में उत्तर प्रदेश की 8 और पश्चिम बंगाल की दो सीटों पर सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक और बिहार, मणिपुर, मेघालय, नगालैंड और ओडिशा में सुबह 7 बजे से शाम चार बजे तक मतदान होगा. 

-आरएसएस प्रमुख मोहन भगवत ने वोट डाला और लोगों से बढ़चढ़ कर वोट डालने की अपील कई।

पहले चरण में उत्तर प्रदेश के डेढ़ करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे. इनमें 82,24,000 पुरुष तथा 68,39,000 महिलाएं शामिल हैं. इस चरण के लिए कुल 6,716 मतदान केंद्र और 16,581 मतदेय स्थल बनाए गए हैं. चुनाव को स्वतंत्र निष्पक्ष एवं भयमुक्त तरीके से संपन्न कराने के लिए व्यापक सुरक्षा बंदोबस्त किए गए हैं. 

पहले चरण में आंध्र प्रदेश, सिक्किम और ओडिशा में विधानसभा चुनाव भी होगा. इस दौरान आंध्र प्रदेश की 175 विधानसभा सीटों, सिक्किम की 32 और ओडिशा की 28 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा. आंध्र प्रदेश से अलग होकर 2014 में तेलंगाना राज्य की स्थापना होने के बाद आंध्र प्रदेश में पहली बार विधानसभा चुनाव हो रहा है. राज्य की सभी 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटों पर पहले चरण में गुरुवार को ही मतदान संपन्न हो जाएगा.

11 अप्रैल को होने वाले मतदान के लिए मंगलवार शाम चुनाव प्रचार थम गया था. चुनाव आयोग द्वारा घोषित चुनाव कार्यक्रम के अनुसार पहले चरण में मतदान सुबह 7 बजे शुरू होगा. इनमें से कुछ सीटों पर शाम 4 बजे तक, कुछ पर 5 बजे तक और कुछ सीटों पर 6 बजे तक मतदान होगा. निर्वाचन नियमों के अनुसार मतदान खत्म होने के समय से 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार थम जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here