रोहतक में नवजोत सिद्धू के मंच की ओर महिला ने फेंकी चप्पल।

सिद्धू की सभा के दौरान सुरक्षा व्‍यवस्‍था और पुलिस का प्रबंध बहुत ढीला था। नवजोत सिद्धू की रोहतक के गांधी कैंप में रात में जनसभा थी।

0
476

Rohtak, Haryana: पंजाब के कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस के स्‍टार प्रचारक नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) को बुधवार रात राेहतक (Rohtak) में चुनाव प्रचार के दौरान विरोध का सामना करना पड़ा। सिद्धू यहां कांग्रेस प्रत्‍याशी दीपेंद्र सिंह हुड्डा (Dipinder Singh Hooda) के पक्ष में प्रचार के लिए पहुंचे थे। शहर में एक जगह उनकी सभा के दौरान एक महिला ने मंच की ओर चप्‍पल फेंक दी। चप्‍पल मंच के पास गिरी। इसके बाद सिद्धू के काफिले के रवाना होने के दौरान कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ प्रदर्शन किया।

सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) की सभा के दौरान सुरक्षा व्‍यवस्‍था और पुलिस का प्रबंध बहुत ढीला था। नवजोत सिद्धू की रोहतक के गांधी कैंप में रात में जनसभा थी। वहां मंच बनाया गया था, लेकिन वहां सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं थे।

जब नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) मंच पर संबोधन कर रहे थे। इसी दौरान पीछे एक मकान की छत से चप्पल फेंकी गई, जो मंच तक नहीं पहुंची। इस घटना से वहां हड़कंप मच गया। नवजोत सिंह सिद्धू के भाषण में लीन पुलिस कर्मी इसके बाद हरकत में आए। छत पर महिलाओं से पूछताछ भी की गई।

बताया जाता है कि जिस महिला ने चप्पल फेंकी थी, वह प्रज्ञा ठाकुर को कांग्रेस सरकार के दौरान गिरफ्तार करने से नाराज थी। लेकिन, पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के काफिले को काले झंडे दिखाने का प्रयास भी किया गया। लेकिन वहां भी पुलिस कर्मी नहीं दिखे। इस दौरान कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ता भी भिड़ गए थे, तब जाकर पुलिस कर्मी वहां पहुंचे। जनसभा के दौरान एक व्यक्ति ने पीएम मोदी के जयकारे लगाए तो सिद्धू ने उन पर कटाक्ष करते हुए अपना भाषण जारी रखा।

इससे पहले सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने रोहतक शहर के विभिन्‍न हिस्‍सों में रोड शो किया और सभाओं को संबोधित किया। इस दौरान उन्‍होंने अपने जुमलों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा पर जमकर हमले किए। इससे अलावा उन्‍होंने सिरसा में प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष अशोक तंवर के लिए रोड शो किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here