World Cup: इंडिया पाकिस्तान मैच पर गौतम गम्भीर ने कहा ”दो अंक अहम नहीं है। देश अहम है।

गौतम गम्भीर ने कहा, ''दो अंक अहम नहीं है। देश अहम है। जिन 40 जवानों ने शहादत दी, वे क्रिकेट मैच से अधिक महत्वपूर्ण थे।

0
609

पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान के साथ हर स्तर पर संबंध तोड़ने की मांग करने वाले गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने कहा कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) को तय करना है और उसके परिणाम झेलने के लिए तैयार रहना होगा।

गौतम गंभीर ने कहा कि बीसीसीआई या तो पाकिस्तान (Pakistan) के साथ सारे क्रिकेट संबंध तोड़ ले या हर स्तर पर उसके साथ खेले, क्योंकि सशर्त प्रतिबंध नहीं हो सकता।

उन्होंने कहा, ”इंग्लैंड ने 2003 में ऐसा किया और वे जिम्बाब्वे नहीं गए। बीसीसीआई अगर पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलने का फैसला लेता है तो दो अंक गंवाने के लिए मानसिक तौर पर तैयार रहना होगा।” उन्होंने कहा, ”इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं और संभव है कि हम सेमीफाइनल में क्वालीफाई नहीं कर सके। मीडिया को भारतीय टीम को दोष नहीं देना चाहिए अगर वह पाकिस्तान के खिलाफ नहीं खेलती है तो।”

यह पूछने पर कि फाइनल में दोनों टीमों की टक्कर होने पर क्या होगा, गंभीर ने कहा कि ऐसे में भारत को फाइनल छोड़ देना चाहिए। उन्होंने कहा, ”दो अंक अहम नहीं है। देश अहम है। जिन 40 जवानों ने शहादत दी, वे क्रिकेट मैच से अधिक महत्वपूर्ण थे। यदि हम विश्व कप फाइनल भी छोड़ देते हैं तो देश को इसके लिए तैयार रहना चाहिए।” गंभीर ने कहा, ”समाज का एक तबका कहता है कि खेलों को राजनीति से नहीं जोड़ना चाहिए, लेकिन जवान क्रिकेट के खेल से अधिक अहम हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here